Dhumil's Photo'

‘अकविता’ आंदोलन के समय उभरे हिंदी के चर्चित कवि। मरणोपरांत साहित्य अकादेमी पुरस्कार से सम्मानित।

‘अकविता’ आंदोलन के समय उभरे हिंदी के चर्चित कवि। मरणोपरांत साहित्य अकादेमी पुरस्कार से सम्मानित।

धूमिल के उद्धरण

कविता आदमी को मार देती है। और जिसमें आदमी बच गया है, वह अच्छा कवि नहीं है।

कविता की असली शर्त आदमी होना है।

कविता की कोई नैतिकता नहीं होती।

कविता का एक मतलब यह भी है कि आप आज तक और अब तक कितना आदमी हो सके।