भक्ति पर कुंडलियाँ

भक्ति विषयक काव्य-रूपों

का संकलन।

करुणा हो श्रीराम की

गिरिधर कविराय

करै कृपा जिस पुरुष पर

गिरिधर कविराय

ताप मध्य में ताप हूँ

गिरिधर कविराय

जैसा यह मन भूत है

गिरिधर कविराय

गिरिधर सो जो गिरिधरै

गिरिधर कविराय