ग़रीबी पर अनुवाद

ग़रीबी बुनियादी आवश्यकताओं

के अभाव की स्थिति है। कविता जब भी मानव मात्र के पक्ष में खड़ी होगी, उसकी बुनियादी आवश्यकताएँ और आकांक्षाएँ हमेशा कविता के केंद्र में होंगी। प्रस्तुत है ग़रीब और ग़रीबी पर संवाद रचती कविताओं का यह चयन।

आवाज़ें-156

अंतोनियो पोर्चिया

आवाज़ें-205

अंतोनियो पोर्चिया

आवाज़ें-13

अंतोनियो पोर्चिया

आवाज़ें-226

अंतोनियो पोर्चिया

संबंधित विषय