Rabindranath Tagore's Photo'

रवींद्रनाथ टैगोर

1861 - 1941 | जोड़ासांको ठाकुरबाड़ी, पश्चिम बंगाल

समादृत बहुविद कवि-साहित्यकार-चित्रकार-दार्शनिक और समाज-सुधारक। राष्ट्रीय गान के रचयिता। नोबेल पुरस्कार से सम्मानित।

समादृत बहुविद कवि-साहित्यकार-चित्रकार-दार्शनिक और समाज-सुधारक। राष्ट्रीय गान के रचयिता। नोबेल पुरस्कार से सम्मानित।

रवींद्रनाथ टैगोर की संपूर्ण रचनाएँ

कविता 29

कहानी 2

 

उद्धरण 18

हर शिशु इस संदेश के साथ जन्मता है कि इश्वर अभी तक मनुष्यों के कारण शर्मसार नहीं है।

  • शेयर

मृत्यु का अर्थ रौशनी को बुझाना नहीं; सिर्फ़ दीपक को दूर रखना है क्यूंकि सवेरा हो चुका है।

  • शेयर

प्रेम का उपहार दिया नहीं जा सकता, वह प्रतीक्षा करता है कि उसे स्वीकार किया जाए।

  • शेयर

हम दुनिया को ग़लत आँकते हैं और कहते हैं कि उसने हमें छला है।

  • शेयर

संगीत दो आत्माओं के बीच फैली अनंतता को भरता है।

  • शेयर

Recitation

जश्न-ए-रेख़्ता (2023) उर्दू भाषा का सबसे बड़ा उत्सव।

पास यहाँ से प्राप्त कीजिए