चाँदनी पर गीत

चाँदनी चाँद की रोशनी

है जो उसके रूप-अर्थ का विस्तार करती हुई काव्य-अभिव्यक्ति में उतरती रही है।

चाँद-किरन

देवेंद्र कुमार बंगाली

चाँदनी फैली गगन में

हरिवंशराय बच्चन

चाँदनी

गोपालशरण सिंह
बोलिए