noImage

श्रीपति

रीतिकालीन कवि। सर्वांग निरूपक। पावस-ऋतु-वर्णन के लिए उल्लेखनीय।

रीतिकालीन कवि। सर्वांग निरूपक। पावस-ऋतु-वर्णन के लिए उल्लेखनीय।

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI