ग़ाज़ीपुर के रचनाकार

कुल: 3

‘कर्मनाशा’ कविता-संग्रह के कवि। बतौर अनुवादक भी उल्लेखनीय।

द्विवेदीयुगीन प्रमुख उपन्यासकार। जासूसी कथा-लेखन के लिए उल्लेखनीय।

आधुनिक युग के सुप्रसिद्ध ललित-निबंधकार। भारतीय सांस्कृतिक चिंतन में योगदान।