noImage

विपिन बिहारी

1965 | गया, बिहार

दलित-संवेदना और सरोकारों के लिए उल्लेखनीय कवि-कथाकार।

दलित-संवेदना और सरोकारों के लिए उल्लेखनीय कवि-कथाकार।

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

बोलिए