Trilochan's Photo'

त्रिलोचन

1917 - 2007 | सुल्तानपुर, उत्तर प्रदेश

आधुनिक हिंदी कविता के प्रमुख कवि। अपने जनवादी विचारों के लिए प्रसिद्ध। साहित्य अकादेमी पुरस्कार से सम्मानित।

आधुनिक हिंदी कविता के प्रमुख कवि। अपने जनवादी विचारों के लिए प्रसिद्ध। साहित्य अकादेमी पुरस्कार से सम्मानित।

त्रिलोचन की संपूर्ण रचनाएँ

कविता 28

उद्धरण 40

हमेशा पुरानी पीढ़ी नई पीढ़ी से निराश रही है। नई पीढ़ी भी पुरानी पीढ़ी बनकर निराश होती रही है।

  • शेयर

कविता तो एक जीवन को तोड़कर सकल जीवन बनाती है। और जीवन टूटता है, वह कवि का है।

  • शेयर

कोई कवि सहज और स्वस्थ रहे तो समझ लीजिए, कुछ क़सर है।

  • शेयर

शब्दों की शक्तियों का जितना ही अधिक बोध होगा अर्थबोध उतना ही सुगम्य होगा। इसके लिए पुरातन साहित्य का अनुशीलन तो करना ही चाहिए, समाज का व्यापक अनुभव भी प्राप्त करना चाहिए।

  • शेयर

कवि जब पाठक की स्थिति में होता है, तब उसकी स्थिति रचना-काल से भिन्न होती है।

  • शेयर

पुस्तकें 2

 

वीडियो 4

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
अन्य वीडियो
कवि त्रिलोचन

चैप्टर 6 चंपा काले काले/पाठ 6 चंपा काली काली

चैप्टर 6 चंपा काले काले/पाठ 6 चंपा काली काली

त्रिलोचन

त्रिलोचन/त्रिलोचन

त्रिलोचन शास्त्री (११ कवितायेँ) Trilochan Shastri (11 Poems in Hindi)

Recitation

जश्न-ए-रेख़्ता (2023) उर्दू भाषा का सबसे बड़ा उत्सव।

पास यहाँ से प्राप्त कीजिए