Shrinaresh Mehta's Photo'

श्रीनरेश मेहता

1922 - 2000 | शाजापुर, मध्य प्रदेश

हिंदी के समादृत कवि-कथाकार और आलोचक। भारतीय ज्ञानपीठ से सम्मानित।

हिंदी के समादृत कवि-कथाकार और आलोचक। भारतीय ज्ञानपीठ से सम्मानित।

श्रीनरेश मेहता की संपूर्ण रचनाएँ

कविता 32

उद्धरण 2

मनुष्य मात्र को इतिहास और राजनीति नहीं एक कविता चाहिए।

  • शेयर

जो भी अपनी भूमि पर अँगूठे के बल खड़ा हो जाता है, वट वृक्ष हो जाता है।

  • शेयर
 

वीडियो 3

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
अन्य वीडियो
नकेनवाद / नरेश मेहता / हिन्दी साहित्य / Net, pgt, tgt, dsssb / rajkiye professor Hindi subject prep

मृत्तिका / कविता / नरेश मेहता

किरण धेनुएंँ व्याख्या - नरेश मेहता in class room , first grade, second grade PGT,TGT,UGC NET

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

speakNow