Font by Mehr Nastaliq Web

बीकानेर के रचनाकार

कुल: 6

जसनाथ

1482 - 1506

गोरखनाथ के शिष्य और जसनाथी संप्रदाय के संस्थापक। वाणियों में सगुण-निर्गुण में अभेद के पक्षधर।

आधुनिक काल के संत कवि। दलित समाज से संबद्ध। रचनाओं का शिल्प मध्यकालीन।

नवें दशक के कवि। कहानी, डायरी और निबंध-लेखन में भी सक्रिय।

राजस्थानी के सुपरिचित कवि-साहित्यकार और अनुवादक।

सुपरिचित राजस्थानी कवयित्री। साहित्य अकादेमी पुरस्कार से सम्मानित।

संस्कृत के कवि और संस्कृत-हिंदी भाषाओं के विद्वान। 'हरनामाम्रितम्' और 'विश्वमानवियम्' संस्कृत महाकाव्य के रचनाकार।

जश्न-ए-रेख़्ता (2023) उर्दू भाषा का सबसे बड़ा उत्सव।

पास यहाँ से प्राप्त कीजिए